18 May 2024, 11:56:37 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

दुबई में भारतीय शख्स ने लॉटरी में जीते 45 करोड़ रुपये, UAE के वीकली ड्रॉ में 5 इंडियंस की खुली किस्मत

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 17 2023 3:43PM | Updated Date: Nov 17 2023 3:43PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। बीते एक हफ्ते के दौरान संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अलग-अलग शहरों में रहने वाले कम से कम पांच भारतीयों का सपना पूरा हुआ है। इन लोगों के या तो साप्ताहिक ड्रॉ निकले या उनकी लॉटरी निकली है। इनमें से एक व्यक्ति एक नियंत्रण कक्ष का ‘ऑपरेटर’ है जिसकी 45 करोड़ रुपये की लॉटरी निकली है। यूएई में बड़ी संख्या में भारतीय लॉटरी में पैसा लगाते हैं और इसमें से मध्यम वर्ग या फिर निम्न मध्यम वर्ग के व्यक्तियों की काफी संख्या होती है। पिछले कुछ वर्षों में कई भारतीयों ने बड़ी धनराशि जीती है,

बुधवार को 154वें ड्रॉ की घोषणा की गई और इसके मुताबिक, तेल व गैस उद्योग में नियंत्रण कक्ष ‘ऑपरेटर’ के रूप में कार्यरत श्रीजू ने ‘महजूज सैटरडे मिलियन्स’ में करीब 45 करोड़ रुपये जीते हैं। केरल के रहने वाले 39 वर्षीय श्रीजू पिछले 11 वर्षों से फुजैराह में रहकर काम कर रहे हैं। उन्हें जब ड्रॉ जीतने की खबर मिली तब वह काम पर थे। श्रीजू को जैसे ही पता चला कि उन्होंने 45 करोड़ की लॉटरी जीती है तो वह हैरान रह गए।  उन्होंने सिर्फ पुरस्कार ही नहीं बल्कि शीर्ष पुरस्कार भी जीता है।

‘गल्फ न्यूज’ ने श्रीजू के हवाले से कहा, 'मैं अपनी कार में बैठने ही वाला था कि मैंने अपना महजूज अकाउंट चेक किया और मुझे अपनी आंखों पर विश्वास ही नहीं हो रहा था। जब मैंने अपनी जीत देखी तो मुझे समझ ही नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूँ। मैंने महजूज से कॉल का इंतजार किया ताकि मेरी जीती हुई राशि की पुष्टि हो सके।' श्रीजू, छह साल के जुड़वां बच्चों के पिता हैं। अब वह बिना किसी वित्तीय देनदारी के भारत में घर खरीदने की योजना बना रहे हैं।

‘गल्फ न्यूज’ के मुताबिक, एक अन्य भारतीय ने पिछले शनिवार को ‘इमेरेट्स ड्रा फास्ट5’ में राफ्फेल पुरस्कार जीता। दुबई में रहने वाले केरल के 36 वर्षीय सरत शिवदासन ने करीब 11 लाख रुपये की पुरस्कार राशि जीती है। इससे पहले नौ नवंबर को मुंबई के रहने वाले 42 वर्षीय मनोज भावसार ने फास्ट5 राफ्फेल में करीब 16 लाख रुपये जीते थे। भावसार पिछले 16 साल से अबू धाबी में रह रहे हैं।

‘गल्फ न्यूज’ की खबर के मुताबिक, आठ नवंबर को एक अन्य भारतीय अनिल जियानचंदानी ने दुबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आयोजित ‘दुबई ड्यूटी फ्री मिलेनियम मिलियनेयर’ प्रमोशन में 10 लाख अमेरिकी डॉलर जीते थे। आठ नवंबर को एक खबर में बताया गया था कि ‘महजूज सैटरडे मिलियंस’ के विजेताओं में दो भारतीय भी शामिल हैं, जिन्होंने करीब 22 लाख रुपये जीते हैं।

8 नवंबर को एक अन्य रिपोर्ट में कहा गया कि महज़ूज़ सैटरडे मिलियंस के विजेताओं में दो भारतीय थे, जिन्हें प्रत्येक को 100,000 दिरहम (लगभग 22 लाख रुपये) मिले, उनमें से एक संयुक्त अरब अमीरात से था। गल्फ न्यूज ने बताया, 'दो दशकों से संयुक्त अरब अमीरात में रह रहे 50 वर्षीय फायर एंड सेफ्टी तकनीशियन शेरियन को इस बात पर विश्वास करना मुश्किल हो रहा था क्योंकि उन्होंने पहली बार इतना बड़ा पुरस्कार जीता था।'

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »